Tag: गशल

बांदा के अफसरों ने नहीं सुनी तो ग्रामीणों ने बनवाई गोशाला; भूसा बैंक में तीन माह के चारे का किया भंडारण

कहते हैं कि एक हाथ की पांचों उंगलियां मिल जाएं तो वह मुट्ठी बन जाती है। कुछ ऐसा ही ...